सूनी है खिडकियाँ

सर्दी के आलम में शहर की गलियाँ सुनी हो गई
जहाँ पर चाँद दिखता था खिड़कियाँ सूनी हो गई

सूनी खिड़कियाँ
  • सूनी है खिड़कियाँ

Post navigation