बहनें..!!

कब तक बंधन और सुरक्षा के घेरे में बहनों को रख्खोगे.. बेलन हाथ से लेकर कब बंदूक हाथ में दे दोगे … कब तक आरक्षण के बल पर इन को आगे ले जाओगे कब तक राखी के बल पर इनको…

तन्हाइयो का एहसास एकदिन तुम भी करोगी

तन्हाइयो का एहसास एकदिन तुम भी करोगी। क्या बीतती है दिल पर तुम भी महसूस करोगी। हम तो बंजारों की तरह है तुम्हारी ज़िन्दगी में। जब यह बंजारा याद आएगा तो तुम क्या करोगी। कभी आँखों से निकलूंगा म आंसू…

Posts navigation